भाषा विकास में सुनना एवं बोलना की भूमिका (Role Of Listening And Speaking In Language Development) बालक के भाषा विकास में सुनने एवं बोलने की महत्वपूर्ण भूमिका होती है।

सुनना और बोलना पढ़ने और लिखने की क्षमताओं के लिए आवश्यक भूमिका तैयार कर देते हैं। वास्तव में ये चार क्षमतायें भाषा के परस्पर सहकारी अंग हैं। 

भाषा विकास में सुनने की भूमिका का महत्व निम्नवत् है

  • शुद्ध उच्चारण करने में – सुनना एक स्वाभाविक प्रक्रिया है इसके माध्यम से बच्चों में शुद्ध उच्चारण करने के कौशल का विकास होता है। सुनने के माध्यम से ही बच्चा बोलने में आने वाली उच्चारण सम्बन्धी अशुद्धियों को दूर करने में सफल हो पाता है जिसके परिणाम स्वरूप उसके भाषा सम्बन्धी कौशल में निखार आता है।
  • इससे छात्र के शब्द-भण्डार में वृद्धि होती है।
  • विभिन्न विधाओं के भावों को समझकर उनका अर्थग्रहण करने की क्षमता का विकास होता है। दूसरे व्यक्तियों के भावों व विचारों को समझा जाता है। सुनने के माध्यम से एक समान प्रतीत होने वाली ध्वनियों में अन्तर करने में सहायता मिलती है।

भाषा विकास में बोलने की भूमिका का महत्व निम्नवत् है

  • बच्चों में सुनकर प्राप्त किए गए ज्ञान का मूल्यांकन करने में बोलने का बहुत महत्व होता है इसके माध्यम से एक शिक्षक बच्चों में भाषा सम्बन्धी त्रुटियों की जाँच करता है वह कक्षा-कक्ष में हुई शिक्षण प्रक्रिया का मूल्यांकन कर सकता है।
  • बोलने से बच्चों की झिझक समाप्त होती हैं, वे वाचन के माध्यम से अपनी बात को दूसरों के सामने प्रकट करना सीख जाते हैं
  • पढ़ने से बोलना तथा पढ़ने के बाद लिखने की क्रिया होती है। बोलने से भाषा प्रवाह में पटुता, प्रवीणता व कुशलता का विकास होता है। भाषा पर पकड़ भी बनती है।
  • जब बालक किसी कविता या कहानी को बोलता है तो उसी के भावानुरूप प्रस्तुतिकरण करने की योग्यता का विकास होता है।

Question / Answer

Question #1सुनने और लिखने की कुशलता का आकलन करने का सबसे अच्छा तरीका है?
[Language I – Hindi]
Optionsa) कविता सुनकर प्रश्नों के उत्तर लिखना
b) सुनी गई कहानी को अपने शब्दों में लिखना correct answer
c) सुनी गई कहानी को शब्दशः लिखना
d) कविता सुनना और शब्दशः लिखना
Question #2प्राथमिक स्तर की कक्षा में भिन्न-भिन्न प्रान्तों के अलग-अलग भाषा बोलने वाले वच्चो का नामांकन हुआ हैं | ऐसी स्थिति में भाषा की कक्षा बच्चो के भाषाई विकास के सन्दर्भ में
[Language I – Hindi]
Optionsa) जटिल चुनोती के रूप में सामने आती है correct answer
b) अवरोध ही प्रस्तुत करती है
c) भुत बड़ी समस्या बन जाती है
d) अनमोल संसाधन के रूप में कार्य करती है

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *